Up Bhulekh 2022 | यूपी भूलेख ऑनलाइन upbhulekh.gov.in खसरा खतौनी नकल

Up bhulekh online, Up bhulekh land records, यूपी भूलेख नक्शा, upbhulekh.gov.in portal, Up online land records verification, Up bhulekh in hindi, Up bhulekh khasra khatauni, up bhulekh naksha, bhulekh up nic in up, bhulekh uttar pradesh, bhulekh naksha up, khasra khatauni up, khatauni up

(Up Bhulekh) यूपी भूलेख जैसा कि आप सभी को पता है सरकार द्वारा अब लगभग हर विभाग को ऑनलाइन कर दिया गया है या ऑनलाइन करने की दिशा में काम कर रही है इसीलिए सरकार अब जमीन से जुड़े संबंधित सभी प्रकार के कामों को भी ऑनलाइन कर दिया है।

जमीन से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी आप घर बैठे अपने फोन या कंप्यूटर से आसानी से हासिल कर सकते हैं।
अब यूपी के नागरिक यू पी भूलेख नामक अधिकारिक वेबसाइट पर जाकर अपने जमीन का पूरा ब्यौरा प्राप्त कर सकता है |

आगे आपको इस लेख ( आर्टिकल ) के माध्यम से यूपी भूलेख खसरा, खतौनी, पोर्टल का उद्देश्य, लाभ, विशेषताएं, पात्रता, दस्तावेज इत्यादि संबंधित सारी जानकारी मिलेगा।

Contents

यूपी भूलेख पोर्टल क्या है ? Up Bhulekh portal kya hai ?

सरकार द्वारा जारी bhulekh.gov.in पोर्टल के माध्यम से राज्य के नागरिक अपनी जमीन का विवरण आसानी से इस पोर्टल के माध्यम से देख सकता है। इस पोर्टल के माध्यम से राज्य के नागरिकों में ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से पारदर्शिता आएगी |

जिसके तहत नागरिक जमाबंदी, खसरा, खतौनी, भूमि का नक्शा एवं अन्य सभी जानकारी के लिए नागरिकों को पटवारी के पास जाना पड़ता था लेकिन अब इस पोर्टल के शुरू होने से किसी भी नागरिकों को कहीं जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

घर बैठे ऑनलाइन यूपी भूलेख (Up Bhulekh) की आधिकारिक वेबसाइट से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

(Up Bhulekh) यूपी भूलेख का उद्देश्य :

हम सभी को अपनी जमीन का रिकॉर्ड रखने के लिए दस्तावेज संभाल कर रखना पड़ता है साथ ही सरकार को भी सारी फाइलें संभालकर रखनी पड़ती है।

जिसके चलते कई बार सरकारी कार्यालयों में दस्तावेजों में गड़बड़ी पाई जाती है जिसके तहत देश एवं राज्य के नागरिकों को काफी परेशानी उठानी पड़ती है।

इन्हीं सभी समस्या को देखते हुए सरकार के द्वारा (Up Bhulekh) यूपी भूलेख पोर्टल की शुरूआत की गई है तथा इसका मुख्य उद्देश्य है राज्य के सभी नागरिकों तक भूमि ( जमीन ) का विवरण ऑनलाइन प्रणाली के माध्यम से पहुंचाना |

इस कंप्यूटरीकरण प्रणाली के माध्यम से नागरिकों तक सुविधा पहुंचे एवं रिकॉर्ड में किसी प्रकार की कोई गड़बड़ी ना पाई जाए जनता घर बैठे सारी जानकारी हासिल कर ले यही इस पोर्टल का मुख्य उद्देश्य है।

यूपी भूलेख का लाभ Benefits of UP Bhulekh :

  • इस कंप्यूटरीकरण प्रणाली शुरू करने से राज्य के नागरिकों को अपना खाता खेसरा नंबर, जमाबंदी, नकल, भू नक्शा प्राप्त आदि करने में लाभ होगा।
  • यदि राज्य के नागरिक बिना सरकारी ऑफिस के चक्कर लगाए जमीन से संबंधित कोई भी जानकारी प्राप्त करना चाहे वो आसानी से (Up Bhulekh) यूपी भूलेख पोर्टल के माध्यम से प्राप्त कर सकता है।
  • यूपी भूलेख के माध्यम से आप अपना धर्म एवं समय दोनों बचा सकते हैं।
  • आप कहीं भी रह कर अपने जमीन से जुड़ी कोई भी काम ऑनलाइन आसानी से कर सकते हैं।

(Up Bhulekh) यूपी भूलेख के मुख्य घटक :

  • जमाबंदी/फर्द :- जमाबंदी/फर्द के अंतर्गत मुख्य भूमि का विवरण जैसे मालिक का नाम, कल्टीवेटर का नाम, भूमि क्षेत्र, खसरा नंबर, फसल विवरण, जमीन पट्टे का विवरण आदि शामिल होते हैं।
  • खसरा संख्या:- खसरा नंबर एक प्रकार की विशिष्ट भूखंड संख्या, सर्वेक्षण संख्या या फिर प्लॉट संख्या जो राज्य सरकार द्वारा कृषि भूमि को प्रदान किया जाता है।
  • खाता/खेवट संख्या :- खाता या खेवट संख्या एक प्रकार की संख्या होती है जो मालिकों के एक समूह को दी जाने वाली एक प्रकार का नंबर होता है जिसके पास अलग-अलग खसरा संख्या का भूमि का एक हिस्सा होता है।
  • खतौनी संख्या:- खतौनी संख्या एक प्रकार की संख्या होती है जो हमेशा कल्टीवेटर के सेट या यूं कहे कि कृषकों के समूह को दी जाती है जो विभिन्न खसरा संख्या की भूमि के एक भाग की खेती करते हैं उन्हें प्रदान किया जाता है।

(Up Bhulekh) यूपी भूलेख खसरा खतौनी नकल ऑनलाइन कैसे देखें :

यदि आप भी अपनी जमीन का जमाबंदी नकल/ खसरा खतौनी, नकल,ऑनलाइन देखना चाहते हैं तो इसके लिए आपको नीचे बताए गए पूरी स्टेप को फॉलो करना होगा।

  • ऑनलाइन खसरा खतौनी नकल देखने के लिए सबसे पहले आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट upbhulekh.gov.in पर जाएं।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा वहां आपको “खतौनी की नकल देखें” के विकल्प पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद कैप्चा कोड भरकर सबमिट के बटन पर क्लिक कर देना।
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल कर आएगा इस पेज पर आपको अपने जिला, तहसील, ग्राम, खसरा, खतौनी नंबर या फिर सर्वे नंबर या पट्टे की जानकारी देनी या चुननी होगी।
  • उसके बाद आप 4 प्रकार से खसरा/ गाटा संख्या द्वारा खोजें, खाता संख्या द्वारा, खातेदार के नाम के द्वारा खोजें, या नामांतरण दिनांक से भी खोज सकते हैं।
  • इसमें से किसी भी एक विकल्प का उपयोग करके आप अपनी जमीन की भूलेख, खसरा, खतौनी चेक कर सकते हैं।
  • उसके बाद खसरा, खतौनी आपके स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगा।
  • इस प्रकार आप घर बैठे अपनी जमीन से जुड़े सारी सुविधा ऑनलाइन ले सकते हैं।

(Up Bhulekh) उत्तर प्रदेश भू नक्शा कैसे देखें एवं डाउनलोड करें ऑनलाइन ?

  • इसके लिए सबसे पहले आपको (Up Bhulekh) यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल जाएगा जहां आपको अपने जिला, तहसील, विलेज आदि का चयन करना होगा उसके बाद चयनित क्षेत्र का नक्शा दिखाई देगा।
  • अब यदि आपको खाता धारक का नाम देखना है तो अपने फार्म पर क्लिक कर दें।
  • क्लिक करने के बाद आपको खाता संख्या दिखाई देगी अब आप जिस व्यक्ति का देखना चाहते हैं उनका नाम चुने।
  • उसके बाद यदि आप चाहते हैं कि नक्शे को डाउनलोड करना है या डाउनलोड करके प्रिंट आउट लेना है तो आप प्रिंट आउट भी ले सकते हैं।

राजस्व ग्राम खतौनी का कोड कैसे पता करें ?

  • इसके लिए सबसे पहले आपको (Up Bhulekh) यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको “राजस्व ग्राम खतौनी का कोड जाने” वाले विकल्प पर क्लिक करें।
  • उसके बाद आपको अपने जिले, तहसील, तथा गांव (विलेज) का चयन करना होगा।
  • जैसे ही आप चयन करेंगे उसके बाद आपके सामने राजस्व ग्राम खतौनी का कोड आ जाएगा।

भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति जानने की पुरी प्रक्रिया क्या है ?

  • सर्वप्रथम आपको यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज खुलने के बाद आपको भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति वाले आप्शन लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • इसके बाद आपको अपने जिले, तहसील तथा गांव (विलेज) का चयन करना होगा।
  • आप के चयन करते ही आपके सामने भूखंड/गाटे के वाद ग्रस्त होने की स्थिति खुलकर आ जाएगी।

भूखंड/गाटे के विक्रय की स्थिति जानने की पुरी प्रक्रिया क्या है ?

  • भूखंड/गाटे के विक्रय की स्थिति जानने के लिए सबसे पहले आपको यूपी भूलेख की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपके सामने होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज खुलने के बाद आपको भूखंड/गाटे के विक्रय की स्थिति जाने वाले लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपको अपने जिले, तहसील तथा गांव (विलेज) का चयन करना होगा।
  • आप के चयन करते ही आपके सामने भूखंड/गाटे के विक्रय होने की स्थिति खुलकर आ जाएगी।

खतौनी अंश निर्धारण की नकल कैसे देखें ?

  • इसके लिए आपको सर्वप्रथम आपको राजस्व परिषद, उत्तर प्रदेश भूलेख (Up Bhulekh) की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद अब आपके सामने एक होम पेज खुलकर आएगा।
  • होम पेज खुलने के बाद आपको “खतौनी अंश निर्धारण की नकल देखे” वाले लिंक पर क्लिक करें।
  • उसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल कर आ जाएगा जिसमें आपको अपनी डिस्ट्रिक्ट ( जिला ) उसके बाद तहसील फिर अपने गांव का चयन करना होगा।
  • इन सबके बाद आपके सामने एक और नया पेज खुल कर आएगा जिसमें आपको अपना खसरा/गाटा संख्या सही सही दर्ज करनी होगी।
  • उसके बाद आपको सर्च के बटन पर क्लिक करना होगा। इस प्रकार आप आसानी से देख सकते हैं।

Up bhulekh पोर्टल पर राजस्व ग्राम खतौनी का कोड कैसे प्राप्त करें ?

भूलेख संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी के लिए आपको राजस्व ग्राम खतौनी का कोड की जरूरत पड़ेगी।

  • कोड प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आपको इसकी अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • उसके बाद आपको अपना जनपद चुनना होगा।
  • जनपद चुनने के बाद आपको अपनी तहसील चुनना होगा।
  • उसके बाद आप अपने गांव का नाम चयन करें वहीं आपको गांव के साथ कोड भी प्राप्त हो जाएगी।

राजस्व ग्राम सार्वजनिक संपत्ति देखने की क्या प्रक्रिया है ?

  • सर्वप्रथम आपको उत्तर प्रदेश भूलेख की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • फिर आपके सामने एक होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर राजस्व ग्राम सार्वजनिक संपत्ति वाले ऑप्शन पर आपको क्लिक करना होगा।
  • उस के बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आपको अपने जनपद का नाम चयन करना होगा।
  • जनपद चयन करने के बाद आपको अपने तहसील का नाम चयन करना है।
  • तहसील का नाम चयन करने के बाद आपको अपने ग्राम का नाम चयन करना है।
  • उसके बाद आपको अपने खसरा/गाटा संख्या सही दर्ज करनी होगी।
  • खसरा/गाटा संख्या दर्ज करने के बाद आपको “खोजें” के ऑप्शन पर क्लिक करना है।
  • उसके बाद संबंधित जानकारी आप की कंप्यूटर स्क्रीन पर आ जाएगी।

राजस्व ग्राम सार्वजनिक संपत्ति रजिस्टर कैसे देखें ?

  • इसके लिए सर्वप्रथम आपको राजस्व परिषद, उत्तर प्रदेश की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • फिर आपके सामने एक होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज खुलने के बाद आपको “राजस्व ग्राम सार्वजनिक संपत्ति रजिस्टर” के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद “राजस्व ग्राम सार्वजनिक संपत्ति रजिस्टर” के ऑप्शन पर क्लिक करते ही आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • आपको इस पेज पर अपने जिले का नाम चयन करना है।
  • उसके बाद आपको आपके जिले के सामने जो संख्या दी गई है उस संख्या पर क्लिक करना है।
  • क्लिक करने के बाद संबंधित जानकारी आपकी कंप्यूटर स्क्रीन पर खुलकर आ जाएगी।

खतौनी अंश निर्धारण की नकल कैसे देखें ?

  • इसके लिए सबसे पहले आपको भूलेख की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • यहां होम पेज पर आपको “खतौनी अंश निर्धारण की नकल देखें” वाले आप्शन पर क्लिक करें।
  • उसके बाद आपके सामने एक को होम पेज खुलेगा जिसमें आपको अपने जिले, तहसील एवं गांव का नाम चयन करना होगा।
  • उसके बाद आपको अगले पेज पर अपनी खसरा/गाटा संख्या सही सही दर्ज करनी होगी।
  • जैसे ही आप खसरा/गाटा संख्या दर्ज करेंगे आपके सामने खतौनी अंश निर्धारण की नकल खुलकर आ जाएगी।

यूपी वरासत अभियान हेल्पलाइन नंबर क्या है ?(Helpline No)

सरकार इस अभियान के तहत इसके लिए हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है। जो कि 0522-2620477 है। इस Helpline No पर संपर्क कर सकते हैं।

आप सीएम हेल्पलाइन नंबर जोकि 1076 है, पर भी संपर्क कर सकते हैं। इसके अलावा आप ईमेल के माध्यम से सभी अपनी शिकायत दर्ज करवा सकते हैं। ईमेल आईडी [email protected] है।

और पढ़े :

Leave a Comment